Wednesday , 6 July 2022

UP में मिली ‘मोगली गर्ल’, बंदरों की तरह ही करती है व्‍यवहार…

Loading...

मोगली की कहानी से भला कौन वाकिफ नहीं होगा. शायद आप भी ये सोचते हों कि मोगली केवल काल्‍पनिक दुनिया का ही हिस्‍सा हो सकता है. मगर जनाब, आपकी इस सोच को चुनौती देती है एक नन्‍हीं सी बच्‍ची.

अभी-अभी: अयोध्या में रामनवमी के मौके पर मंदिर में हुई मौत, चारो तरफ़ मचा भगदड़….UP में मिली 'मोगली गर्ल', बंदरों की तरह ही करती है व्‍यवहार...इस बच्‍ची को उत्तर प्रदेश के बहराइच के जंगल से पुलिस ने खोजा है. खबरों के अनुसार, आठ साल की ये लड़की अब तक बंदरों के साथ झुंड में रहा करती थी.

खास बात ये है कि ये लड़की ना तो हमारी तरह बोल पाती है और ना ही व्यवहार करती है. दरअसल, इसे मानवीय सभ्‍यता के बारे में कुछ पता ही नहीं है. इसने तो बचपन से ही बंदर देखे और उन्‍हीं की तरह जीना सीखा.

किसने ढूंढ़ी ये बच्‍ची
जानकारी के मुताबिक, सब इंस्पेक्टर सुरेश यादव ने कतर्नियाघाट के जंगल के मोतीपुर रेंज से इसे ढूंढ़ निकाला. जब वे नियमित गश्त पर थे, तभी उनकी नजर इस पर पड़ी. आपको जानकर हैरानी होगी कि उस समय ये लड़की बंदरों के झुंड में थी.

बड़ी ख़बर: यूपी के बड़े बीजेपी नेता पर हमलावरों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, खेमे में मचा हड़कंम…

Loading...

UP में मिली 'मोगली गर्ल', बंदरों की तरह ही करती है व्‍यवहार...किस हालत में मिली
पुलिस ने बताया कि लड़की बंदरों के बीच नग्न अवस्था में थी. उसके बाल और नाखून बढ़े हुए थे. बंदर जब एक-दूसरे को देखकर आवाजें निकाल रहे थे तो ये भी वैसा ही कर रही थी. जैसे ये उनकी साथी हो. फिर सुरेश यादव ने अन्य पुलिसवालों की मदद से बड़ी मुश्किल से इस लड़की को पकड़ा. उस समय वो पुलिसवालों पर बंदरों की ही तरह गुर्रा रही थी.

मां से मिलीं केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल, कयासों ने पकड़ा जोर

अब कहां है बच्‍ची
पुलिसवालों ने इसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया. अब इसकी हालत में सुधार आ रहा है. बहराइच जिला अस्पताल के डॉक्टर्स कह रहे हैं कि बच्ची डॉक्टरों और दूसरे लोगों को देखते ही चिल्लाती है. समस्‍या ये है कि ये इंसानों की भाषा भी नहीं समझ पा रही थी. थाली में खाना नहीं खा पा रही है, बंदरों की तरह ही आकृति बनाकर कूदती है.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com