Sunday , 29 May 2022

नोटबंदी के 15वें दिन धरने पर सांसद, राहुल बोले- सूटबूट वाले क्यों नहीं लाइन में

Loading...

नोटबंदी का आज 15वां दिन है। जहां पूरा देश आज भी बैंक और एटीएम के बाहर लाइन में लगा है। वहीं संसद भवन परिसर में आज 13 विपक्षी पार्टियों के 200 से अधिक सांसदों ने प्रदर्शन किया। परिसर के अंदर महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास धरना दे रहे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मीडिया से बात करते हुए दो मांग रखी। पहला पीएम मोदी संसद में आएं, विपक्ष की भी सुनें और दूसरी मांग कि इस मामले की जांच जेपीसी से कराई जाए।

rahul-gandhi_1479277695

मीडिया से बात करते हुए राहुल ने कहा, पीएम संसद में आने से क्यों कतरा रहे हैं। बीजेपी के बड़े बडे़ नेताओं और उद्योगपतियों को नोटबंदी के बारे में पहले से ही पता था। हमारी मांग है, पीएम संसद में आएं, बहस को सुनें, विपक्ष को सुनें, दूसरी मांग है हमें लगता है कि इस निर्णय के पीछे कोई घोटाला है। ये सूचना लीक हुई है इसलिए इस मामले की जांच जेपीसी से करवानी चाहिए। 200 से ज्यादा सांसद यहां खड़े हैं। विपक्ष संगठित है। उन्हें बताना चाहिए कि ऐसा निर्णय क्यों लिया।

उन्होंने कहा, कांग्रेस सहित सभी पार्टियां कालेधन के खिलाफ आवाज उठा रही हैं। फिर सिर्फ एक बिलियन लोग ही क्यों परेशान किये जा रहे हैं। देश इस तरह नहीं चलाया जा सकता। देश की अर्थव्यवस्था ठीक चल रही थी अचानक बड़ा झटका दे दिया। छोटे दुकानदार, किसान, मजदूर परेशान है। लाइन में आज क्यों कोई सूट बूट वाला या बीजेपी का नेता नहीं दिख रहा है। संसद शुरू होते ही शहीद होने वाले लेागों को श्रद्धांजलि देने की प्रथा है। पहले दिन अन्य शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई लेकिन नोटबंदी से मरे लेागों को क्यों नहीं दिया गया।

Loading...

संसद भवन के बाहर प्रदर्शन कर रहीं 13 पार्टियों में कांग्रेस, वाम, सपा और बसपा भी हैं। प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस सांसद और उपाध्यक्ष राहुल गांधी, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद, एके एंटनी, शरद पवार आदि दिख रहे हैं। इसके अलावा कई सांसदों के हाथ में तमाम नारे लिखी हुईं पट्टियां हैं। इसमें लिखा है, आम आदमी का शोषण बंद करो, गरीब जनता की रक्षा करो, ये सर्जिकल स्ट्राइक नहीं आम आदमी पर चोट है, पीएम मोदी संसद आएं आदि।

इस धरने से विपक्ष नोटबंदी की सूचना कथित तौर पर लीक होने की जांच संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) से कराने की मांग भी कर रही है। इसके अलावा उनकी मांग बहस के दौरान प्रधानमंत्री के उपस्थित रहने की भी है। विपक्ष की ये सभी पार्टियां आज मिलकर इस मुद्दे पर कड़ा रुख अपनाते हुए राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात भी करेगी। संसद भवन परिसर में मौजूद महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने ये धरना खत्म किया जाएगा।

 
 
 
 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com