Thursday , 30 June 2022

केजरीवाल पर भड़के अन्ना हजारे, कहा सत्ता के लिए सिद्धांतों को भूल गए

Loading...
सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे वी.के. शुंगलु कमेटी की रिपोर्ट पढ़कर दुखी हो गए हैं। उन्होंने अपने शिष्य और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की आलोचना करते हुए कहा है कि वह सत्ता के लिए सभी सिद्धांतों को भूल चुके हैं। भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में केजरीवाल मेरे साथ थे। मुझे लगा कि वे शिक्षित हैं और भ्रष्टाचार को खत्म कर सकते हैं लेकिन केजरीवाल ने मेरी सारी उम्मीदों पर पानी फेर दिया है।केजरीवाल पर भड़के अन्ना हजारे, कहा सत्ता के लिए सिद्धांतों को भूल गए 
महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले की रालेगण सिद्धि से जारी बयान में अन्ना हजारे ने कानून और संविधान का उल्लंघन करने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री की कड़ी आलोचना की है। 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने कहा है कि केजरीवाल ने जो कुछ किया है उसका वह कभी समर्थन नहीं कर सकते। केजरीवाल ने उनकी सारी उम्मीदों को झटका दिया है। सत्तामद में जिस तरह से दिल्ली सरकार ने सारे नियमों और कानूनों को तोड़ा है, इसका वह कभी समर्थन नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि इस तरह का व्यवहार देश और समाज को कमजोर करेगा। 

Loading...

हजारे ने यहां तक कहा है कि ईश्वर ने मुझ पर कृपा कर दी और राजनीतिक पार्टी गठन से पहले ही मै केजरीवाल से दूर हो गया। अब मुझे समझ में आया कि वह हमेशा मुझे अपना गुरु क्यों कहता था। ईश्वर ने मुझे बचा लिया वरना, आज मेरी भी प्रतिष्ठा चली गई होती। अन्ना ने बयान में कहा है कि जब वह मुख्यमंत्री बन गया तब भी मुझे उससे मिलने की कभी इच्छा नहीं हुई। 

हजारे ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई के दिनों में केजरीवाल उनके साथ थे तो वह हमेशा कहा करते थे कि एक नेता को विचारों और कर्म की शुद्धता को बनाए रखना चाहिए। बेदाग जीवन जीना चाहिए और देश व समाज की भलाई के लिए त्याग करना चाहिए। लेकिन, शुगलु कमेटी की रिपोर्ट बताती है कि केजरीवाल सत्ता के लिए सब कुछ भूल चुके हैं।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com