Friday , 3 December 2021

मनचले भी शरमा जाएं इसकी छेड़खानी को देखकर

मनचले भी शरमा जाएं इसकी छेड़खानी को देखकरबंदरों के काटने और घरों में घुसकर सामान का नुकसान करने के कई किस्से तो आपने सुने होंगे, लेकिन यूपी के कानपुर शहर में एक बंदर  की हरकतों से शहर के मनचले भी शर्मिंदा महसूस कर रहे हैं. इस बंदर ने इन दिनों महिलाओं और लड़कियों का घर से निकलाना दूभर कर दिया है.

यह बंदर सिर्फ महिलाओं और लड़कियों को ही अपना निशाना बनाकर न सिर्फ उन्हें परेशान करता है, बल्कि उनके साथ अश्लील हरकतें भी करता है. इस बंदर की इन हरकतों का अब तक कई महिलाएं और लड़कियां शिकार हो चुकी हैं.

केशव नगर इलाके में नहर पटरी रोड पर पेड़-पौधे बहुत अधिक है और नहर भी है. यहां काफी समय से बंदरों की टोलियां घूमती थी. शुरुआत में इन बंदरों ने कुछ एक लोगों को काटा भी पर उसके बाद सब सामान्य हो गया.

इधर, कुछ दिनों से इन बंदरों की संख्या में इजाफा भी हुआ. स्थानीय लोगों के मुताबिक, पिछले करीब 20-25 दिनों से एक बंदर जो दिखने में पतला सा है. वह महिलाओं और लड़कियों के साथ अश्लील हरकतें करता है. वह उनकी साड़ी, दुप्पटे को खींचता है और कंधे पर चढ़ कर अश्लील हरकतें और शारीरिक छेड़छाड़ करता है.

नहर पटरी पर गुटके की दुकान चलाने वाले विजय गुप्ता का कहना है कि यह बंदर दोपहर में ही इधर नजर आता है और सिर्फ महिलाओं और लड़कियों संग ऐसी हरकतें करता है, जिससे कोई भी शर्म से पानी पानी हो जाए. विजय ने बताया कि यह बंदर किसी को काटता नहीं है और न ही लड़कों या पुरुषों को किसी तरह परेशान करता है. यह सिर्फ महिलाओं और लड़कियों संग ऊटपटांग हरकतें करता है.

एक रिक्शा कम्पनी चलाने वाले गुड्डू पंडित की माने तो यह बंदर ऐसी हरकतें अब तक करीब 20 से अधिक महिलाओं और लड़कियों के साथ कर चुका है. कई बार उनकी कंपनी के रिक्शाचालक बन्दर को लाठी, डंडे और पटाखों से भगा भी चुके हैं पर कुछ घंटों बाद वह फिर आ जाता है.

बर्रा में रहने वाली एक युवती कोमल (काल्पनिक नाम ) केशव नगर स्थित एक स्कूल में टीचर हैं. उन्होंने बताया कि एक बार इस बंदर ने स्कूल से घर पैदल जाते वक्त उनके पीछे से आकर उनका दुपट्टा खिंचा. पीछे मुड़कर देखा तो चीख निकल गई, पर डर के चलते वो भाग नही पाई, तो उन्होंने दुपट्टा छोड़ दिया. लेकिन बंदर फिर भी उनके पीछे पड़ गया और पास ही स्थित एक पीपल के पेड़ के चबूतरे पर चढ़कर उनके कंधे पर बैठ गया और कपड़े फाड़ने लगा. तब तक वहीं से गुजर रहे दो बाइक सवारों ने शोर मचाकर और पत्थर दिखाकर बंदर को भगाया. कोमल बताती हैं कि वह तभी से इतना डर गई हैं कि उन्होंने रास्ता ही बदल दिया है.

एक महिला पलक (काल्पनिक नाम ) ने बताया कि वह बर्फ बेचती है और रोज दोपहर पैदल ही घर खाना खाने जाती है. एक दिन एक बंदर अचानक से आ गया और उनकी साड़ी खिंच दी, जिसके बाद वहां से भागने के प्रयास में उनकी साड़ी खुल गई और वह गिर गईं. जिसके बाद रास्ते से गुजर रहे लोगों ने बंदर को भगाया. अब वह बंदर के डर से उस रस्ते से नहीं निकलती हैं.

इलाके के लोगो ने बताया कि अभी तक बंदर सिर्फ सामान का नुकसान करते थे पर अब इस बंदर की यह हरकत लोगों में चर्चा का विषय बनी हुई है. इलाके के विकास सिंह ने बताया कि कई बार बंदरो के आतंक की शिकायत वन विभाग से की पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई और न ही कोई अधिकारी या कर्मचारी बंदर पकड़ने ही आया.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com