Saturday , 4 December 2021

सीएम योगी ने सुलतानपुर मेडिकल कालेज का किया शिलान्‍यास, जनसभा को संबोधित करते हुए की ये घोषणा

सुलतानपुर, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को सुलतानपुर मेडिकल कालेज का शिलान्‍यास किया। साथ ही जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि एक साथ 307 करोड़ की परियोजनाओं का यहां लोकार्पण व शिलान्यास किया गया। ये लोकार्पण और शिलान्यास दीपावली का उपहार है। दीपावली पर अयोध्या में एक कार्यक्रम होगा। उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य है जो देश की 44 योजनाओं में नंबर एक के स्थान पर आया है। गरीबों और जाति के नाम पर समाज को छिन्न भिन्न करने वाले लोग, बेनकाब हो गए है। सभी नौजवान छात्र-छात्राओं को टेबलेट व स्मार्ट फोन भाजपा सरकार देगी। अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण हो रहा है। अब यह जिला भी उससे जुड़ रहा है। राम मंदिर का निर्माण न तो सपा, कांग्रेस, बसपा किसी ने नहीं बनाया। भाजपा ही मंदिर बना रही है। आप सभी भी भाजपा के साथ आए।

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि अब कोई गरीब लाभ से वंचित नहीं है। सभी कुछ शांतिपूर्ण ढंग से चल रहा है। आप सब के सहयोग से कोरोना को भी परास्त कर दिया। पहले लोगो की आस्था तक को दबा दिया जाता था। त्योहार आता था तो दंगाई बाहर आ जाते है। अब परिस्थितियां बदल गई है। यहां पहले चरण में 500 बेड का अस्पताल बनाने जा रहे है। आयुष्मान योजना के तहत गरीबों का कार्ड बनाकर उन्हें निश्शुल्क इलाज दिया जा रहा है। किसानों के साथ भी सरकार खड़ी है। अतिवृष्टि से बर्बाद हुई फसल का मुआवजा किसानों को दिया जाएगा। इसकी पूरी रिपोर्ट सभी जिलों से मांगी गई है। जैसे ही रिपोर्ट आएगी। किसानों के खाते में मुआवजा की राशि पहुंच जाएगी। स्थानीय स्तर पर स्व उद्योग और रोजगार से जोड़ने के लिए 60 लाख लोगों का चयन किया गया है।  उन्‍होंने कहा कि हम सभी भी अपने घर में मिट्टी के दीपक जलाएं, इस आयोजन में सभी लोग जुड़े। आज हम मेडिकल कालेज के शिलान्यास में आए है। इसमें बहुत प्रयास सांसद का भी है। प्रधानमंत्री जी को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने पूरे प्रदेश के सभी जिलों में मेडिकल कालेज का उपहार दिया। देश में जब कांग्रेस की सरकार थी तो हर दिन एक घोटाला सामने आता था। योजनाओं का लाभ गरीबों और जरूरतमंदों तक नहीं पहन पाता था। एक परिवार दिल्ली में तो एक लखनऊ में बैठकर राज करता था। जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बने तो योजनाएं गरीबों के घरों तक पहुंची। मोदी जी ने सबका साथ सबका विकास के नारे को पूरा किया। सुल्तानपुर जिले से गुजर रहा पूर्वांचल एक्सप्रेस वे विकास की नई गाथा लिखेगा। 207 किमी तक यह जनपद से गुजर रहा है। यहां औद्योगिक गलियारा विकसित होगा। रोजगार के साथ विकास अब आप सबको दिखेगा। पहले त्योहार आते थे तो उसे शांतिपूर्ण ढंग से नहीं मना पाता था। होली, दिवाली, दुर्गा पूजा, जन्माष्टमी आती थी तो कर्फ्यू लग जाता था। कोई भी परिवार त्योहार खुशी से नहीं मना पाता था। अब सारे त्योहार धूमधाम से खुशी के माहौल में मनाया जाता है। गुंडागर्दी खत्म हो गई। सीएम ने कहा कि इसौली विधानसभा में सरकार के विकास कार्य को भी नहीं पहुंचाया गया। 2017 चुनाव के बाद प्रदेश में बदलाव दिखाई पड़ा है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री आवास योजना, मनरेगा के तहत कार्ड, राष्ट्रीय आजीविका मिशन, एक जनपद एक उत्पाद के तहत 33 लाभार्थियों को चाबी, प्रमाण पत्र, टूल किट आदि वितरित किया। इस मौके पर एक लाभार्थी को कृषि योजना के तहत ट्रैक्टर की चाबी प्रदान की गई।

सांसद मेनका संजय गांधी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि पांच साल के कार्यकाल में ढाई वर्ष मैं पीलीभीत में रही। वहां भी आपकी हमेशा मदद की गई। ढाई साल सुल्तानपुर में हुआ। इस दौरान अपने बहुत सारी परियोजना दी। मेडिकल कालेज यहां नहीं खुल रहा था, आपके प्रयास से यहां मेडिकल कालेज की स्थापना हो रही है। दो मॉडल थाना, बस स्टेशन, सड़कें आदि दी। यह सब सुल्तानपुर के लिए बड़ी बात है। सांसद ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से जिले की बदहाल चीनी मिल के जीर्णोद्धार के साथ बाध मंडी व एक अन्य योजना की मांग की। चिकित्सा एवं शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि आज मेडिकल कालेज के शिलान्यास करने के लिए मुख्यमंत्री का आगमन हुआ है। यहां के साथ अमेठी में भी बहुत जल्द मेडिकल कालेज का शिलान्यास होगा। कोरोना काल के दौरान मुख्यमंत्री जी द्वारा प्रतिदिन मॉनिटरिंग कर प्रदेश को संक्रमण को हराने में आगे आए। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में पहले चार सात, दूसरे में नौ और तीसरे चरण में 14 मेडिकल कालेज के शिलान्यास किया गया। इसमें सुल्तानपुर भी शामिल है। वर्ष 2022-23 में एमबीबीएस पहले सत्र की कक्षाएं शुरू हो जाएंगी। प्रदेश के 75 जिलों में राजकीय मेडिकल कालेज होंगे। प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि 24 करोड़ प्रदेश वासियों के मान और सम्मान के प्रतीक है मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी। उन्होंने कहा कि ये चुनाव की बेला है इस समय एक से एक धूर्त और बेईमान बाहर आ चुके है। गरीब परिवार में जन्म लेने वाले देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ऐसे प्रतिनिधि है,जो जनता के बीच जाते है। कोरोना काल के दौरान गांव, अस्पताल, गली मुहल्ले तक पहुंचे। आज लोग जातिवाद, धर्मवाद की बात करते है । पहले के समय में जब बेटियों घर से दिन में स्कूटी से निकालती थी तो बाहर गुंडे उनकी इज्जत से खेलते थे। स्कूटी लूट ली जाती थी। आज बेटी बारह बजे रात में भी बेखौफ बाहर निकल पा रही है। गुंडे माफिया सब या राज्य छोड़कर भाग गए या फिर जेल में है। ये मुख्यमंत्री के कार्यकाल में ही हो सका है। सोनिया गांधी कहती थी अयोध्या में राम का कोई वजूद नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी ने उनका मंदिर स्थापित करा रही है। वोट ईमानदारी के नाम पर होता है राष्ट्रवाद के नाम पर होता है। प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री जब उतरते है भारत माता की जय, जयश्री राम का नारा होता है। प्रदेश में पांच लाख युवाओं को नौकरी मिली। साढ़े चार साल में एक भी दंगा प्रदेश में नहीं हुआ है। प्रदेश में दोबारा कमल खिलेगा, आज हम सभी इसका संकल्प करिए। सभी गरीबों का पक्का मकान बनेगा, पक्की सड़के होंगी।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com