Friday , 3 December 2021

महाकोशल में बारिश का कहर जारी, रीवा में पांच लोग फंसे

महाकोशल में बारिश का कहर जारी, रीवा में पांच लोग फंसेजबलपुर/रीवा। विंध्य-महाकोशल में लगातार तीसरे दिन भी बारिश का कहर जारी है। लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। वहीं रीवा के सिरमौर के समीप पांच लोग पेड़ पर फंसे हुए हैं, जिन्हें बचाने प्रशासन ने सेना को बुलाया है। सेना ने मदद के लिए हेलिकॉप्टर भेज दिया है, जो मौके का मुआयना करके रीवा में उतरा है। अब रेक्यू ऑपरेशन चलाया जाएगा।

रीवा के सिरमौर क्षेत्र के पड़रा गांव में टीएचपी प्लांट के पीछे सात युवक मछली मारने गए थे, जिनमें से दो बाहर आ गए, लेकिन पांच युवक अभी भी फंसे हुए हैं। सात युवक टमस नदी में मछली मारने गए थे, इसी दौरान अचानक पानी बढ़ गया, जिसमें से दो युवक बाहर निकल गए, लेकिन पांच युवक फंस गए, जो नदी के बीच एक पेड़ पर बैठे हुए हैं।

प्रशासन को इसकी खबर लगते हुए मौके पर स्मीटर और बचाव दल भेजा गया, लेकिन उसके प्रयास नाकाफी साबित हुए। जिसके बाद कलेक्टर राहुल जैन ने सेना से मदद मांगी। सेना ने दल के साथ हेलिकॉप्टर भेज दिया है। दल ने हेलीकाप्टर से मौके का मुआयना करने के बाद बचाव की तैयारी शुरू कर दी है।

मदद के लिए पहुंचा हेलिकॉप्टर

सतना जिले के उचेहरा जनपद पंचायत के धनेह गांव का तालाब फूटने से नई बस्ती के 6 मकान गिर गए हैं। बस्ती में भरा पानी भरने से लोग हलाकान हो गए है। सतना रहिकबारा की कैमरो नदी का पुल टूट गया है। सतना बायपास पूरी तरह से जलमग्न हो गया है। आवागमन पूरी तरह से बंद हो गया है। सतना अमरपाटन मार्ग बंद हो गया है। बायपास के ऊपर 6 फीट पानी बह रहा है।

महाकोशल के जबलपुर, नरसिंहपुर सहित सभी जिलों में बारिश का कहर जारी है। बरगी बांध में पानी बढ़ता जा रहा है। जिससे लोगों की चिंता बढ़ गई है। जबलपुर शहर में कई जगह जल प्लावन की स्थिति निर्मित हो गई है।

शहडोल- दो दिन से लगातार रुक-रुक कर हो रही बारिश। गुरुवार को सुबह से ही कभी रिमझिम तो कभी तेज बारिश हो रही है।

डिंडोरी- बुधवार से रिमझिम बारिश का दौर जारी है जो गुरूवार को भी जारी रहा।

दमोह- यहां करीब दो घंटे से बारिश कम होने के कारण कुछ जगह स्थिति सामान्य होती जा रही है।

बुंदेलखंड में भी बारिश का कहर जारी है। दमोह जिले के हटा और पथरिया में नदी और नाले उफान पर हैं। दमोह शहर में भी कई जगह पानी भर गया है। हटा में सुनार नदी खतरे के निशान से ऊपर बहने लगी है। जिससे नदी किनारे के लोगों से घर छोड़ने की अपील की गई है। उन्हें पुत्रीशाला स्कूल में शरण दी जा रही है। छतरपुर मार्ग पर कांटी घाट के पुल के ऊपर 40 फीट पानी बहने लगा है। मुहरई गांव के बीच में से नदी की धार निकलने से गांव में हाहाकार की स्थिति निर्मित हो गई है।

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com