Friday , 12 August 2022

बेटे को गोद में लिए 4000 साल से दफ्न है ये मां, इसने निकाले सबके आंसू

Loading...

china_b_110815चीन में हाल ही में एक 4000 साल पुराने मानव कंकाल मिले हैं। चीनी पुरातत्वविदों को एक खोज के तहत मिले इन कंकालों को मां बेटे का कंकाल है।कहा जा रहा है कि इन मानव कंकालों को देख की स्‍थिति को देखकर यह साफ अंदाजा लगाया जा सकता है कि एक मां अपने बच्‍चे को प्‍यार से आलिंगन करते समय जमीन में समाई हैं। शायद ये दोनों 2000 ईसा पूर्व में, क्‍यूंघाई प्रांत में आए बड़े भूकंप आदि का शिकार भी हो सकते हैं।

Loading...
बड़े भूकंप में शिकार हुई
जानकारी के मुताबिक चीन में हाल ही पुरातत्वविदों को ये मानव कंकाल मिले हैं। कहा जा रहा है कि कांस्य युग पुरातात्विक स्थल पर  ‘पूर्व की पॉम्पी’की खुदाई के दौरान पहले कुछ अवशेष दिखे। उसके बाद काफी गहराई से खुदाई हुई तो यह मां बेटे का ये कंकाल मिला। जिसमें मां की गोद में बेटा बैठा है। फिलहाल अभी शुरूआती दौर में विशेषज्ञों का मानना है कि यह किसी यह करीब 2000 ईसा पूर्व में, क्‍यूंघाई प्रांत में आए बड़े भूकंप में शिकार हुई हैं। जिसमें मां अपने बच्‍चे सुरक्षा को लेकर उसे अपनी गोद में चिपकाए सी प्रतीत होती है, या फिर बाढ का शिकार हुई हैं। 
गोद में बैठा बच्‍चा लड़का
ऐसे में अब इसका पता काफी गंभीरता से लगाया जा रहा है। हालांकि इस दौरान एक्‍सपर्स का कहना है कि यह तो साफ है कि यह किसी नेचुरल डिजास्‍टर का ही कंकाल है। इतना ही नहीं यह भी साफ हो गया है कि महिला की गोद में बैठा बच्‍चा लड़का ही है।चीन में ‘पूर्व की पॉम्पी’की यानी कि लाजिया साइट यहां के प्राचीन रोमन शहर की तुलना में करीब 2,000 से वर्ष से अधिक पुरानी है। ऐसे में यहां पर साफ सफाई अभियान चल रहा है। जिससे इस खुदाई में ही ये कंकाल मिले हैं। हालांकि अभी इस खुदाई में इसी जगह और भी एक कंकाल सामने की बात कही जा रही है। 

अपनों की फोटो बना रहे

वहीं अब इन कंकालों को को लेकर चीन में लोग काफी चिंतित हैं। उनका मानना है कि ऐसे में तो उनके अपनों के भी कंकाल यहां पर हो सकते हैं। इसके लिए अब वे अपनों की फोटो बना रहे हैं और दिखा रहे हैं। गौरतलब है कि चीन में करीब 2000 ईसा पूर्व में लाजिया साइट पर काफी भयंकर भूकंप आया था। इस दौरान इस भूकंप ने करीब चीन के करीब 40,000 स्‍वायर फिट भाग को अपनी कैद में लिया था। चीन की यह लाजिया साइट काफी ऐतिहासिक साइट है। जिससे ये कंकाल अभी फिलहाल लाजिया साइट पर बने म्‍यूजियम में ही रखे जाएंगे हैं।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com