Thursday , 7 July 2022

आखिर क्‍यों शादी के बाद बढ़ जाता है वजन…

Loading...

shaadi_146571819617_650_061216012728बढ़ते वजन को अक्‍सर खानपान की आदतों से जोड़कर देखा जाता है जिसमें जंक फूड का ज्‍यादा सेवन करना इसका कारण माना जाता है. लेकिन आप शायद ये नहीं जानते होंगे कि शादी के बाद भी वजन बढ़ता है और आपके बढ़ते वेट का कारण आपकी शादी भी हो सकती है. हाल ही में हुए एक शोध के अनुसार, शादी के बंधन में बंधने के बाद ज्‍यादातर कपल्‍स का वेट बढ़ जाता है और वह मोटे हो जाते हैं.

क्‍यों बढ़ जाता है वजन

शादी के बाद जिंदगी बदल जाती है ऐसा तो अक्‍सर सुनने को मिलता है लेकिन शरीर में इतना बड़ा बदलाव आता है ये किसी को भी चिंता में डाल सकता है. इस बात पर ज्‍यादातर लोगों का सवाल है कि आखिर शादी होते ही अचानक लोगों के वजन में इजाफा क्‍यों होने लगता है. एक शोध के अनुसार उनकी लाइफ स्टाइल में बदलाव के कारण ऐसा हो सकता है.

क्‍या कहता है शोध?
शोध के अनुसार सिंगल्स की अपेक्षा शादीशुदा लोग ऑर्गेनिक और ट्रेड फूड की खरीददारी ज्यादा करते हैं. यूनिवर्सिटी ऑफ बेसल में हेल्थ साइकोलॉजी की असिस्टेंट प्रोफेसर जुट्टा माटा के अनुसार, लंबे समय से रिलेशनशिप में रहने वाला व्यक्ति खानपान के प्रति सजग हो जाता है.शोध के अनुसार , दुनियाभर में शादीशुदा लोगों का बीएमआई यानी बॉडी मास इंडेक्स सबसे अधिक होता है. शोध में एक बड़ी ही दिलचस्प बात कही गई है कि शादी की रस्मों के दौरान ही उनका वजन करीब दो किलो तक बढ़ जाता है.

Loading...

फिजिकल एक्‍टिविटी हो जाती है कम
यूनिवर्सिटी ऑफ बैसेल एंड द मैक्स प्लैंक इंस्टीट्यूट ऑफ ह्यूमन डेवलपमेंट ने जीएफके के साथ मिलकर कपल्स और सिंगल्स के बीएमआई का तुलनात्मक अध्ययन किया है. स्टडी पर यकीन करें तो शादीशुदा जोड़े सिंगल लोगों की तुलना में ज्यादा बेहतर खाना खाते हैं. एक ओर जहां कपल्स खानपान का पूरा ध्यान रखते हैं वहीं उनका शारीरिक श्रम लगभग शून्य होता है. उनके मोटापे की ये एक प्रमुख वजह होती है.

क्‍या कहता है वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन
वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन के अनुसार, सामान्य तौर पर बीएमआई 18.5 से 25 तक होता है. लेकिन ओवरवेट होने पर ये 25 से 30 के बीच में और मोटापा होने पर 30 से अधिक हो जाता है. शोध से पाया कि कुंवारे लड़कों में औसत बॉडी मास इंडेक्स 25.7 था, जबकि एक शादीशुदा पुरुष का बॉडी मास इंडेक्स 26.3 था. इसी तरह महिलाओं में भी ये क्रमश: 25.1 और 25.6 रहा.

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com