Wednesday , 6 July 2022

बढ़ते वजन पर लगाम लगा देगा कच्चा पपीता, जवानी भी रखता है कायम

Loading...

यूं तो पपीता बीमारों को खिलाने में काम आता है लेकिन आपको जानकर अचंभा होगा कि इससे वजन कम करने में सहायता मिलती है।
बढ़ते वजन पर लगाम लगा देगा कच्चा पपीता, जवानी भी रखता है कायम

क्या सिर्फ पानी पीकर हो सकता है वजन कम?

वैज्ञानिक कहते हैं कि कच्चे पपीते से मेटाबॉलिज्म बढ़िया रहता है जिससे वजन कंट्रोल में रहता है।

आगे की स्लाइड्स में जाने पपीते के कुछ ऐसे ही फायदे जिन्हे जानकर आप रोज अपनी डाइट में कच्चे पपीते का सेवन जरू करेंगें। 

त्वचा को चमकदार बनाने के लिए पके पपीते को हाथ से खूब मसल कर चटनी जैसा बना लें इसके बाद इस चटनी की पूरे शरीर पर अच्छे से मालिश करें और आधा घंटे बाद नहा लें, इससे कील,मुंहासे,घमौरियों तथा कभी-कभी पड़ जाने वाले दाग धब्बों से आपको मुक्ति मिल जाएगी और त्वचा चमकदार एवं मुलायम हो जायेगी।

इसके साथ ही बार बार ब्यूटीपार्लर जाने से भी छुटकारा मिल जाएगा। 

पपीता को पेट के लिए वरदान माना गया है। कहते हैं पेट के रोगों को दूर करने के लिए पपीते का सेवन करना लाभकारी होता है। पपीते के सेवन से पाचनतंत्र ठीक होता है। पपीते का रस अरूचि, नींद की कमी, सिर दर्द व कब्ज आदि रोगों को ठीक करता है। 

Loading...

सेवन करने से खट्टी डकारें बंद हो जाती है। पपीता पेट रोग, हृदय रोग, आंतों की कमजोरी आदि को दूर करता है। पके या कच्चे पपीते की सब्जी बनाकर खाना पेट के लिए लाभकारी होता है। पपीता शरीर में रक्त का संचार ठीक कर आपको ऐक्टिव रखने में कारगर है।

इसके साथ ही इसका सेवन करने से मोटापे में कमी आती है और शरीर सुडौल बनता है।

हमारे लिए क्‍यों जरूरी है ब्‍लड सर्कुलेशन इसके साथ ही पपीते का सेवन फेसपैक में भी किया जा सकता है। ये चेहरे की त्वचा को ठंडक पहुंचा कर चेहरे पर चमक लाने में उपयोगी साबित होता है। वहीं आंखो के नीचे काले घेरो से भी मुक्ती दिलाता है।
लू से बचने के लिए अपनाएं ये तरीके, नहीं पड़ेंगे बीमार

यदी आप पपीते का सेवन करते है तो समय से पूर्व आपको चेहरे पर झुर्रिया नहीं आएंगी।

पपीते का सेवन आपको बवासीर और पथरी जैसी बिमारियों से निजात दिलाता है। पपीता खाने से पेशाब अधिक आता है जिससे मूत्राशय के रोगों नष्ट हो जाते हैं।

इसके साथ ही अगर आपको कफ के साथ खून आने की शिकायत है तो पपीता इससे आपको छुटकारा दिला सकता है। 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com