Sunday , 29 May 2022

जिन्हें घोटाले कभी ब्लंडर नहीं लगे उसे नोटबंदी गलत लग रही है: जेटली

Loading...

manmohan_singh_20161124_121949_24_11_2016नई दिल्ली। नोटबंदी पर संसद के दोनों सदनों में विपक्ष का विरोध गुरुवार को भी जारी रहा और भारी हंगामे के बीच वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने सरकार का पक्ष रखते हुए विपक्ष पर जमकर हमला बोला। वित्‍त मंत्री ने कहा कि जिन लोगों को बड़े-बड़े घोटाले कभी ब्‍लंडर नहीं लगे उन्‍हें नोटबंदी ब्‍लंडर नजर आ रही है। जो पार्टी एक वक्‍त में देश के सभी बड़े घोटाले का हिस्‍सा थी आज नोटबंदी का विरोध कर रही है।

जेटली ने कांग्रेस को निशाना बनाते हुए आगे कहा कि उनकी सरकार में सबसे ज्‍यादा घोटाले हुए और काला धन देश में पैदा हुआ। 2जी स्‍कैम और कोल स्‍कैम जैसे घोटाले उनके शासनकाल में ही हुए। पूरे देश ने वो घोटले वाली सरकार भी देखी है जिसके राज में कालाधन पैदा हुआ था।

जेटली ने बहस को लेकर कहा कि पहले दिन विपक्ष की बहस को लेकर काई शर्त नहीं थी लेकिन बाद में हर रोज नई शर्तें जोड़ते जा रहे हैं। विपक्ष चाहता था पीएम बहस में मौजूद रहे हैं और अब बहाने बनाना शुरू कर दिया है। विपक्ष ने जो भी प्रस्‍ताव चर्चा के लिए दिन उन पर बहस के लिए हम तैयार हैं।

जेटली से पहले पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा कि नोटबंदी पर सरकार के उद्देश्‍यो का विरोध नहीं करता लेकिन यह भी कहना चाहता हूं कि इस फैसले को लागू करने में अवव्‍यवस्‍था हुई है।

मनमोहन सिंह की सदन में कही यह दस बड़ी बातें

  • जो लोग कहते हैं कि नोटबंदी लंबे समय में फायदा देगी उन्‍हें अपने बयान वापस लेना चाहिए क्‍योंकि लंबे समय में हम सब मर चुके होंगे।
  • नोटबंदी लागू करने में कुप्रंबधन देखने को मिला है। जीडीपी ग्रोथ 2 प्रतिशत तक कम होगी।
  • हम नोटबंदी के उद्देश्‍य के खिलाफ नहीं लेकिन इसे लागू करने के तरीके के खिलाफ हैं।
  • नोटबंदी से अब तक 60-65 लोगों की मौत हुई और आम जनता परेशान है।
  • इस कदम के चलते लोगों का सरकार और करेंसी पर भरोसा कमजोर होगा।
  • बड़े ग्रामीण इलाके में सेवाएं देने वाला सहकारी बैंक सेक्‍टर काम नहीं कर पा रहा है।
  • पीएम एक देश का नाम बताएं जहां लोग पैसा जमा कर सकते हैं लेकिन निकाल नहीं सकते।
  • पीएम ने लोगों से 50 दिन इंतजार करने के लिए कहा लेकिन यह 50 दिन लोगों के लिए बेहद पीड़ादायक होंगे।
  • मैं उम्‍मीद करता हूं कि पीएम लोगों को राहत देने के लिए हमें प्रैक्टिकल तरीकों को ढूंढने में मदद करेंगे।

मनमोहन सिंह के भाषण के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी राज्‍यसभा में मौजूद थे और पूरा भाषण सुना। इससे पहले राज्‍यसभा में विपक्ष तय समय से पहले पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के भाषण का मांग कर रहा था वहीं सरकार ने कहा कि अगर बहस नहीं करनी है तो अनुमति नहीं दी जा सकती। इसके बाद विपक्ष ने हंगामा किया और कार्रवाई 12 बजे तक स्‍थगित कर दी गई थी।

वहीं लोकसभा में सपा सांसद रामगोपाल यादव के बेटे अक्षय यादव ने अभद्रता करते हुए स्‍पीकर कर तरफ कागज फाड़कर उड़ा दिए जिससे नाराज स्‍पीकर सुमित्रा महाजन आसंदी से उठकर चली गईं। सांसद की इस हरकत पर स्‍पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा कि यह गलत तरीका है।

हंगामे और कार्यवाही रूकने के बीच कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री गुलाम नबी आजाद ने कहा, ‘हम नोटबंदी के फैसले के खिलाफ नहीं हैं। हम इसको लागू करने के तरीके के खिलाफ हैं। देश में पैसे का अभाव है।’

वहीं टीएमसी सांसद डेरेक ओ’ब्रायन ने राज्यसभा में कहा, ‘सिर्फ 2 फीसदी लोगों के पास कालाधन है, तो फिर 98 फीसद लोगों को नोटबंदी के कारण परेशान होना पड़ रहा है।’

Loading...

इसके अलावा बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने नोटबंदी के मुद्दे पर कहा, ‘आज विपक्ष को अच्छी सफलता मिली है, लेकिन पूरी कामयाबी नहीं मिली। अभी प्रधानमंत्री का बोलना बाकी है।’ उन्‍होंने यह भी कहा कि पीएम मोदी का सर्वे झूठा है अौर देश के 90 प्रतिशत पीएम के साथ नहीं बल्कि विरोध में हैं। अगर अभी चुनाव हो तो जवाब मिल जाएगा।

इससे पहले पिछले 5 दिन से ठप पड़ी संसद में गुरुवार सुबह भी जैसे ही कार्यवाही शुरू हुई, दोनों सदनों में विपक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया। इसके बाद लोकसभा और राज्यसभा दोनों को दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित करना पड़ा।

28 तक सरकार से बात नहीं करेगा विपक्ष

इससे पहले खबर आई थी कि संसद में नोटबंदी पर जारी गतिरोध को खत्‍म करने के लिए सरकार की कोशिश को विपक्ष ने झटका दिया है। सूत्रों के हवाले से खबर है कि विपक्षी दलों ने तय किया है कि वो सरकार से इस मुद्दे पर 28 नवंबर तक कोई आत नहीं करेगा। दरअसल सरकार की तरफ से गृहमंत्री ने सर्वदलिय बैठक बुलाई थी वहीं संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार भी विपक्ष से संपर्क साधने की कोशिश में थे ताकि संसद में चर्चा हो सके।

गृहमंत्री ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

संसद में लगातार जारी गतिरोध को दूर करने के लिए अब सरकार आगे आई है और इसके लिए गृहमंत्री ने सर्वदलीय बैठक बुलाई थी लेकिन खबर है कि विपक्ष ने इस बैठक से दूरी बनाए रखी।

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com