Thursday , 7 July 2022

जाधव को लेकर भारतीय मीडिया जो जानकारी दे रहा है वो सही नहीं है: परवेज़ मुशर्रफ

Loading...

पाकिस्तानी मीडिया ने कहा, जाधव को फांसी दी तो देखने होंगे बुरे नतीजे

मुशर्रफ ने कहा कि जाधव भारत के लिए जासूसी करने के आरोप में पकड़ा गया था और उसका मामला फील्ड जेनरल कोर्ट मार्शल के सामने चलाया गया जिसमें उसे बचाव के लिए एक वकील भी दिया गया. जासूसी के अरोप में पकड़े गए किसी के साथ पाकिस्तान में ऐसा ही होता है.

उत्तर कोरिया मुद्दे पर ट्रंप ने चीन को दी चेतावनी

Loading...

मुशर्रफ ने भारतीय मीडिया के रुख के इत्तेफाक नहीं जताया. उन्होंने कहा की भारतीय मीडिया जैसा कह रही है वैसा नहीं है. जाधव को बचाव के लिए वकील मुहैया कराया गया था. मुशर्रफ ने आगे कहा कि जाधव ने खुद क्रिमिनल लॉयर की जगह सिविल लॉयर की मांग की थी जो उन्हें मुहैया कराया गया. मुशर्रफ ने कहा कि अभी भी जाधव आगे अपील कर सकते हैं और मामले को सुप्रीम कोर्ट तक ले जा सकते हैं. मुशर्रफ ने ये भी कहा कि जाधव के पास राष्ट्रपति के पास दया याचिका डालने का भी विकल्प है.
मुशर्रफ का मानना है कि पश्चिमी देशों के फांसी के रुख को बहाना बनाकर भारतीय मीडिया पाकिस्तान के खिलाफ प्रोपगैंड करेगी और पाकिस्तान पर दबाव डालने की कोशिश करेगी. उन्होंने आगे कहा कि किसी और देश को ये बताने हक नहीं है कि पाकिस्तान को क्या करना चाहिए और क्या नहीं.

इंडियन एजेंसी रॉ के नेवी ऑफिसर कमांडर कुलभूषण सुधीर जाधव उर्फ हुसैन मुबारक पटेल को पाकिस्तान के बलुचिस्तान में 3 मार्च 2016 को गिरफ्तार किया गया था. उनपर जासूसी का मामला चलाकर पाकिस्तान में उन्हें फांसी की सज़ा सुनाई गई है.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com