Saturday , 29 January 2022

MP: पातालपानी और भवरकुआं का सीएम शिवराज सिंह ने बदला नाम

Loading...

इंदौर: मप्र में पेसा एक्ट लागू किया जा चुका है। इसकी घोषणा सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को इंदौर के नेहरू स्टेडियम से की। वह यहां जननायक टंट्या मामा स्मृति समारोह को संबोधित किया था। कार्यक्रम में राज्यपाल मंगू भाई पटेल भी आए। इंदौर में मंच पर आदिवासी गीत पर CM शिवराज बहुत ही टिकते हुए नज़र आए। राज्यपाल ने क्रांतिसूर्य जननायक टंट्या भील स्मारक स्थल पातालपानी का वर्चुअल लोकार्पण कर चुके है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रशासनिक संकुल का उद्घाटन किया।

इंदौर में सीएम शिवराज सिंह बोले कि कांग्रेस ने टंट्या मामा को पूरी तरह से भुला दिया है। कांग्रेस अपने 50 वर्ष के कार्यकाल में आदिवासी विभाग भी नहीं दे सकी। यह कार्य अटल जी की गवर्नमेंट में हुआ। उन्होंने मंच से पेसा कानून लागू करने का एलान किया था। पेसा एक्ट लागू होने के उपरांत अब स्थानीय संसाधनों पर जनजातीय समाज की पंचायतों को अधिक अधिकार मिल सकते है। इनमें जमीन, खनिज संपदा, लघु वनोपज की सुरक्षा और संरक्षण का अधिकार का नाम भी मौजूद है। साथ ही ग्राम सभाओं को जनजातीय समाज की सामाजिक न्याय और धार्मिक व्यवस्था के लिए भी काम करने का अधिकार मिल जाएगा।

इसके पूर्व स्मृति कार्यक्रम के अंतर्गत पातालपानी में दोपहर 12 बजे राज्यपाल मंगू भाई पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पहुंचे। यहां उन्होंने टंट्या मामा की कांस्य प्रतिमा का उद्घाटन किया। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बोला है कि जननायक टंट्या मामा की स्मृति में प्रतिवर्ष 4 दिसंबर को पातालपानी में मेला लगाया जाएगा। इलाके का विकास किया जाएगा। उनकी स्मृतियों को संजोया जाएगा, जिससे देश को उनके व्यक्तित्व और बलिदान से कुछ सिखने को मिले। जननायक टंट्या मामा की स्मृति में 4 करोड़ 55 लाख की लागत से पातालपानी में नवतीर्थ स्थल भी बनाया जाने वाला है। मंच पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, उषा ठाकुर, मीना सिंह, अतर सिंह आर्य, तुलसी सिलावट, राज्यसभा सांसद सुमेर सिंह सोलंकी, मंत्री विजय शाह, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा भी इस समारोह में शामिल हुए।

इंदौर में सीएम के भाषण की प्रमुख बातें-

बिना लाइसेंस जो सूदखोरी करेंगे, उन पर सख्त एक्शन लिया जाएगा। बिना लाइसेंस वालों ने 15 अगस्त तक जो भी उधार दिए हैं, वे माफ किए जाएंगे, उधार लेने वालों को उन्हें वापस करने की आवश्यकता नहीं है।

युवा बेटे-बेटियों के लिए एक लाख बैकलॉग के पदों पर भर्ती निकाली जा रही है। सीएम उद्यम क्रांति योजना में 50 लाख रुपये तक उद्योग लगाने के लिए लोन भी दिया जाने वाला है । बैंकों को गारंटी भी गवर्नमेंट देगी और ब्याज पर 3% सब्सिडी भी।

जिस पार्टी ने आजादी के उपरांत कई वर्षों तक राज किया, कभी जनजातीय भाई-बहनों की परवाह नहीं की। अटल बिहारी वाजपेयी जी ने पीएम बनने के उपरांत जनजातीय समुदाय के विकास के लिए अलग से मंत्रालय की शुरुआत की।

Loading...

मेरे जनजातीय भाई-बहनों को वन अधिकार के पट्टे देने का क्रम जारी रहने वाला है। जिनके दिसंबर 6 से पूर्व के पट्टे हैं, उन्हें जमीन दी जाने वाली है। साथ ही जिन लोगों पर अपराध के छोटे-मोटे केस मामले चल रहे हैं, उन सभी को वापस  ले लिया जाएगा।

राशन आपके ग्राम योजना के तहत राशन गांव में ही मिलना शुरू हो जाएगा। राशन पहुंचाने के लिए सरकारी वाहनों के बजाय जनजातीय युवाओं को वाहन बैंक से गवर्नमेंट ने फाइनेंस करवाए हैं।

प्रदेश में जिन जनजातीय भाई-बहनों के पास जमीन नहीं है, उन्हें जमीन का पट्टा देकर जमीन का मालिक बनाया जाएगा। आवास की व्यवस्था की जाएगी। मध्य प्रदेश की धरती पर कोई बिना जमीन या मकान के नहीं रहेगा। सभी को मकान मालिक बनाएंगे।

पारंपरिक फसलों की पैदावार की तरह ही वन उपज की भी समर्थन मूल्य खरीदी की जाने वाली है, जिससे हमारे जनजातीय भाई-बहनों को वन उपज की उचित मूल्य मिल सके और उनका जीवन समृद्ध हो सके।

इंदौर का भंवरकुआं चौराहा अब जननायक टंट्या मामा: जहां इस  बात का पता चला है कि पातालपानी में कार्यक्रम के उपरांत मुख्यमंत्री और राज्यपाल इंदौर के लिए रवाना हुए। यहां सभा-प्रदर्शनी के अतिरिक्त सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा। इंदौर में भंवरकुआं चौराहे का नाम बदलकर जननायक टंट्या भील  कर दिया गया है। जननायक टंट्या भील के परिजन और BJP नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे भी मौजूद रहे। अब से यह चौराहा जन नायक टंट्या भील के नाम से पहचाना जाएगा।

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com