Wednesday , 6 July 2022

पीएम मोदी की जान आई खतरे में, इस बड़ी चूक से छूटे अधिकारियों के पसीने

Loading...

नई दिल्ली। भारत के प्रधानमंत्री मोदी अपने अजीबो गरीब कारनामों के लिए खासा चर्चा में रहते हैं। वो एक आम आदमी से किस कदर जुड़े हैं इस बात को वो कई बार उनके बीच जाकर एहसास भी करा चुके हैं। लेकिन इन सब के बीच पीएमओ और तमाम अधिकारियों समेत सुरक्षाकर्मियों के पीसने छूटना तय रहता है। शुक्रवार को पीएम मोदी ने हसीना के लिए भी कुछ ऐसी ही हरकत की।

दरअसल पीएम मोदी ने शुक्रवार को ऐसा कारनामा किया जिसे सुन सब हक्के बक्के रह गए। मोदी सबको आश्चर्यचकित करते हुए बिना किसी पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के पीएम आवास 7 लोक कल्याण मार्ग से सीधे नई दिल्ली एयरपोर्ट पहुंच गए। जहां उन्होंने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना का स्वागत किया। इन सब के बीच तमाम अधिकारियों समेत सुरक्षाकर्मियों के लिए खासा सिरदर्द का माहौल रहा। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी का काफिला निकलने से पहले ही सारा कार्यक्रम तय कर लिया जाता है और उसी के मुताबिक ही प्रोटोकाल समेत काफिला निर्धारित मार्ग से निकलता है। लेकिन शुक्रवार को शेख हसीना के स्वागत के लिए वे दिल्ली की सड़क पर सारे प्रोटोकॉल तोड़ते हुए एक आदमी की तरह साधारण ट्रैफिक से ही एयरपोर्ट पहुंच गए।

हसीना के स्वागत के लिए केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो को अधिकृत किया गया था, लेकिन पीएम मोदी खुद ही वहां पहुंच गए। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना चार दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंची हैं। जिसके दौरान दोनो देशों के बीच लगभग 35 समझौतों पर हस्ताक्षर होने है। वहीं पीएम मोदी इस दौरान बांग्लादेश को 325 अरब डॉलर का कर्ज देने की घोषणा भी कर सकते हैं। ये कर्ज आसान शर्तों और किश्तों पर भारत बांग्लादेश को देगा।

हसीना की इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच सबसे अहम मुद्दा तीस्ता नदी के जल बंटवारे का है। जिस पर दोनों देशों के बीच लंबे अरसे से विवाद चल रहा है। वहीं इसके साथ ही साथ भारत और बांग्लादेश के कई शहरों को रेल और सड़क मार्ग से जोड़ने की योजना पर भी चर्चा होगी जिस पर आगे काम भी शुरू हो सकता है।

Loading...

इन समझौतों के तहत सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा त्रिपुरा से ढाका तक हाई स्पीड डीजल सप्लाइ के लिए पाइप लाइन बिछाने का होगा, जिस पर भी चर्चा होनी है। बांग्लादेश में हिन्दुओं पर लगातार हो रहे हमले का मुद्दा भी चर्चा के दौरान उठ सकता है।

ज्ञात हो कि शुक्रवार को यूपी में भाजपा नेता गिरिराज सिंह ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जान से मारने का षड़यंत्र रचने का आरोप लगाया है। गिरिराज को यूपी में मोदी का मजबूत सिपाही माना जाता है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com