Sunday , 29 May 2022

18 जवानों की शहादत में नवाज दो शब्द बोलने को भी नहीं हुए तैयार, देखें विडियो

Loading...

नई दिल्ली: नवाज शरीफ वहीं हैं जो पीएम मोदी से जब भी मिले आतंकवाद पर चिंता जताई लेकिन कभी किया कुछ नहीं. लेकिन उरी में सेना के 18 जवानों की शहादत पर अफसोस के दो शब्द तक नवाज शऱीफ ने नहीं जताए. उरी में सेना पर हमले के बाद जब भारत में मातम पसरा हुआ है तब पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ यूएन सम्मेलन के लिए अमेरिका के न्यूयॉर्क में हैं. न्यूयॉर्क में जब एक पत्रकार ने शरीफ से इस हमले के बारे में सवाल पूछा तो उन्होंने बस इशारा कर दिया. यहां देखिए

18 जवानों की शहादत में नवाज दो शब्द बोलने को भी नहीं हुए तैयार, देखें विडियो Pakistan PM Nawaz Sharif evades questions from ANI on

WATCH (New York City): Nawaz Sharif avoids answering questions on

नवाज शरीफ ने उरी को लेकर पूछे गए किसी भी सवाल का जवाब देना उचित नहीं समझा

New York City: Pakistan PM Nawaz Sharif refuses to answer ANI’s question on

उनके विदेश सलाहकार सरताज अजीज को न्यूयॉर्क में मीडिया के सामने बोलने का मौका मिला भी लेकिन जुबान खोलने को तैयार नहीं हुए.

फिर कश्मीर राग अलापा

न्यूयॉर्क में शरीफ फिर कश्मीर राग अलाप रहे हैं औऱ भारत के खिलाफ जहर उगल रहे हैं. जब शरीफ अमेरिका के विदेश मंत्री जॉन केरी से मिले तो कश्मीर मामले में दखल देने की मांग रख दी.

केरी से मिलने से पहले नवाज ने सुरक्षा परिषद के अमेरिका, चीन, फ्रांस, रूस और ब्रिटेन के राष्ट्राध्यक्षों-शासनाध्यक्षों को चिट्ठी लिखी कि ‘कश्मीर मुद्दे का समाधान नहीं होना क्षेत्र में तनाव और अस्थिरता का निरंतर स्रोत बना हुआ है जिससे विश्व शांति एवं सुरक्षा को खतरा पैदा होता है. आप जम्मू-कश्मीर में रक्तपात तत्काल रोकने की पहल करें.’

भारत दुनिया के मंच पर पाकिस्तान की घेराबंदी करता उससे पहले नवाज शरीफ ने भारत विरोधी माहौल बनाने की चाल चल दी. भारत में एक्शन की सुगबुगाहट बढ़ी तो पाकिस्तान के सेना प्रमुख राहिल शरीफ रावलपिंडी में अपने कमांडरों को लेकर एक कमरे में बैठ गए.  इसके बाद एक बयान जारी हुआ.

Loading...

पाकिस्तानी सेना का बयान

भारत के बयान शत्रुतापूर्ण हैं. पाकिस्तानी सेना जवाब देने को पूरी तरह से तैयार है. भविष्य में पाकिस्तान की अखंडता और संप्रभुता के खिलाफ किसी मंसूबे को नाकाम किया जाएगा.

मौका भारत के हाथ से भी निकला नहीं है. 26 सितंबर को यूएन में ही विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को बोलना है. उरी में मिले आतंकियों के सामान पाकिस्तान के खिलाफ सबूत हैं. पाकिस्तान के खिलाफ मोदी सरकार का पहला एक्शन संयुक्त राष्ट्र के मंच पर ही दिख सकता है.

पाकिस्तान के खिलाफ सबूत
पाकिस्तान इस हमले से इंकार कर रहा है लेकिन सेना का दावा है कि हमला पाकिस्तान ने ही किया है और इसके उसके पास पुख्ता सबूत हैं. सेना ने आतंकियों का सामान दिखाकर अपनी बात साबित की है. यहां देखिए- पाकिस्तान के खिलाफ सबूत

कार्रवाई करने के मूड में सरकार

सरकार भी अब बातचीत नहीं सिर्फ कार्रवाई करने के मूड में है. आतंकी हमले के बाद जिस तरह से पाकिस्तान ने हाथ होने से इनकार किया है उसके बाद भारत अब सख्त संदेश देने के लिए पूरा मन बना चुका है. पाकिस्तान के साथ संबंध सुधारने के लिए कई ऐतिहासिक पहल कर चुके पीएम मोदी अब ज़रा भी नरमी के मूड में नहीं हैं हालांकि एक ज़िम्मेदार देश होने के नाते झटके में कोई क़दम तो भारत नहीं उठाएगा लेकिन यह तय है कि इस दफ़ा जवानों की कुर्बानी जाया नहीं होने दी जाएगी.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com