Saturday , 4 December 2021

गेंदबाजों के लिए अच्छी खबर

icc_03_07_2016 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने पगबाधा (एलबीडब्ल्यू) से जुड़े अंपायरों के फैसलों पर विवादास्पद निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से संबंधित नियमों में बदलाव को मंजूरी दे दी है, जिससे गेंदबाजों को मदद मिलने की संभावना है। लेकिन टेस्ट क्रिकेट में दो डिवीजन बनाने और नई वनडे लीग सहित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आमूलचूल परिवर्तन करने की योजना को स्थगित कर दिया है।

क्रिकेट की वैश्विक संस्था की शनिवार रात वार्षिक बैठक समाप्त हुई, जिसमें पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष और अब आईसीसी चेयरमैन शशांक मनोहर की अध्यक्षता में कई मसलों पर चर्चा की। कुछ महत्वपूर्ण फैसले भी किए गए।

पगबाधा पर अंपायर के फैसले से संबंधित डीआरएस की खेल परिस्थितियों के बारे में आईसीसी ने कहा कि यदि पगबाधा से संबंधित मैदानी अंपायर का फैसला बदला जाता है तो अब गेंद का आधा हिस्सा स्टंप के क्षेत्र में होना चाहिए जो कि ऑफ और लेग स्टंप के बाहर की सीमा भी होगी।

इससे पहले गेंद का आधा हिस्सा ऑफ और लेग स्टंप के बीच में होना जरूरी होता था। आईसीसी ने कहा कि यह संशोधन एक अक्टूबर से या फिर इस तिथि से ठीक पहले शुरू होने वाली किसी सीरीज जिसमें डीआरएस हो, उससे प्रभावी होगा।

नोबॉल से संबंधित फैसलों में आईसीसी ने कहा कि मैदानी अंपायरों के बजाय तीसरे अंपायर को नोबॉल कहने की अनुमति देने का ट्रायल अगले कुछ महीनों में किया जाएगा, ताकि यह अच्छी तरह से पता लगाया जा सके कि क्या तीसरा अंपायर तुरंत रीप्ले का उपयोग करके बिल्कुल सही नोबॉल दे सकता है। आईसीसी ने बयान में कहा, ‘यह ट्रायल आगामी वनडे सीरीज के दौरान किया जा सकता है और तीसरा अंपायर गेंद पड़ने के कुछ सेकेंड के अंदर नोबॉल देगा और उसे मैदानी अंपायर को बताएगा।’

इस बीच बांग्लादेश जैसे छोटे देशों के स्थायी तौर पर ‘सेकेंड डिवीजन’ में जाने के जोखिम को लेकर चिंता को देखते हुए आईसीसी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आमूलचूल परिवर्तन करने के फैसले को स्थगित कर दिया है। इसके बजाय वह सितंबर के शुरू में दुबई स्थित अपने मुख्यालय में कार्यशाला का आयोजन करेगी।

आईसीसी ने कहा, ‘आईसीसी मुख्य कार्यकारियों की समिति ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के ढांचे और तीनों प्रारूपों में नई प्रतियोगिताओं की शुरुआत को लेकर रचनात्मक चर्चा की। सदस्यों को इस परियोजना की प्रगति से अवगत करा दिया गया है और सभी मानते हैं कि कोई भी अंतिम फैसला करने से पहले इसे अधिक विस्तार से समझने की जरूरत है।’

नए संविधान का मसौदा

विश्व संस्था के प्रशासन में पुनर्गठन के मामले में प्रगति हुई है। आईसीसी बोर्ड की अक्टूबर में होने वाली बैठक में विचार के लिए आगामी सप्ताहों में नए संविधान का मसौदा तैयार किया जाएगा।

राष्ट्रमंडल खेलों में महिला क्रिकेट

आईसीसी ने राष्ट्रमंडल खेल महासंघ की प्रस्तुति के बाद डरबन में 2022 में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में महिला क्रिकेट को शामिल करने को समर्थन देने पर भी सहमति जताई। इस संबंध में आईसीसी आवेदन करेगा। विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘आईसीसी क्रिकेट को कार्यक्रम में शामिल करना सुनिश्चित करने तथा टूर्नामेंट की विशिष्ट संरचना और क्वालीफिकेशन प्रक्रिया के लिए राष्ट्रमंडल खेल महासंघ के साथ मिलकर काम करेगी।’

रिचर्डसन का कार्यकाल बढ़ा

बोर्ड ने आईसीसी के मुख्य कार्यकारी के अनुबंध को भी बढ़ाने को मंजूरी दी। डेव रिचर्डसन 2019 वार्षिक बैठक तक इस भूमिका में रहने के लिए तैयार हो गए हैं।

अमेरिका, नेपाल के निलंबन को मंजूरी

आईसीसी परिषद ने इसके साथ ही अमेरिकी क्रिकेट संघ (यूएसएसीए) और नेपाल क्रिकेट संघ (सीएएन) के निलंबन को भी सर्वसम्मति से मंजूरी दी। उन्हें जून, 2015 और अप्रैल, 2016 में निलंबित किया गया था। हालांकि मनोहर ने घोषणा की कि आईसीसी बोर्ड का प्रतिनिधिमंडल इन दोनों देशों का दौरा करके संबंधित हितधारकों से मुलाकात करेगा और अक्टूबर में होने वाली बैठक में इस बारे में अवगत कराएगा।

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com