Sunday , 14 August 2022

आज देहरादून समेत टिहरी पौड़ी नैनीताल व चंपावत में भारी बारिश की है संभावना…

Loading...

Uttarakhand Weather : अगले 24 घंटे में उत्‍तराखंड के पांच जिलों में भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है। मौसम विज्ञान केंद्र ने भारी वर्षा को देखते हुए इन जिलों में यलो अलर्ट जारी कर एहतियात बरतने की सलाह दी है। इन जिलों में देहरादून समेत, टिहरी, पौड़ी नैनीताल व चंपावत का नाम शामिल है।

सुबह बादल छाए रहने के बाद देहरादून में धूप निकल आई। मसूरी में हल्के बादल है और हल्की धूप है, यहां उमस हो रही है। पौड़ी में बादल छाए हैं। बारिश के आसार बने हैं।

बदरीनाथ और केदारनाथ हाईवे पर यातायात सुचारू

सोमवार रात को बारिश के बाद मंगलवार को बदरीनाथ में मौसम साफ बना हुआ है। हाईवे पर यातायात सुचारू है और बदरीनाथ हेमकुंड साहिब यात्रा जारी है। केदारनाथ समेत रुद्रप्रयाग जनपद में बादल छाए हैं। केदारनाथ हाईवे पर यातायात सुचारू है।

कोटद्वार में राजमार्ग आमसौड़ के समीप बंद

कोटद्वार में तड़के 3:00 बजे से मूसलधार बारिश हुई। बारिश के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग पर आमसौड़ के समीप मलबा आ गया है। जेसीबी से राजमार्ग खुलवाया जा रहा है। बारिश के कारण किसी भी तरह के नुकसान की कोई सूचना नहीं है।

ऋषिकेश : गणेश शंकर मंदिर में तोड़फोड़ करने वाला आरोपित गिरफ्तार, सीसीटीवी कैमरों की फुटेज से आया पकड़ में

यह भी पढ़ें

Loading...

यलो अलर्ट जारी, वर्षा का दौर 24 घंटे से ज्यादा समय तक जारी रहने की संभावना

मौसम विज्ञान केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि मंगलवार को गढ़वाल मंडल के तीन व कुमांऊ मंडल के दो जनपदों में कहीं-कहीं भारी से बहुत भारी वर्षा होने का अनुमान है। इसके लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है। स्थानीय प्रशासन को सलाह दी गई है कि वह एहतियात बरतें। वर्षा का दौर 24 घंटे से ज्यादा समय तक भी जारी रहने की संभावना है।

झमाझम वर्षा के बावजूद नहीं मिल रही गर्मी से राहत

रुड़की में 30 जून को मानसून का आगमन होने पर झमाझम वर्षा हुई थी। बावजूद इसके नागरिकों को उमस भरी गर्मी झेलनी पड़ रही है। इसके चलते लोग परेशान हैं। वर्षाकाल शुरू होने के बावजूद शहर और आसपास के क्षेत्रों के नागरिकों को झमाझम वर्षा के लिए तरसना पड़ रहा है। सोमवार को भी नागरिकों को भीषण गर्मी और उमस का सामना करना पड़ा। वहीं धूप की चमक भी तेज रही।

सोमवार को शहर के तापमान में उछाल देखने को मिला

हालांकि बीच-बीच में कई बार बादल भी आए, लेकिन एकाएक गायब भी हो गए। रविवार की तुलना में सोमवार को शहर के तापमान में उछाल देखने को मिला। अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस से बढ़कर 36.5 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया, जोकि सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस अधिक रहा। जबकि, न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस से बढ़कर 25.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ।

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की के जल संसाधन विकास एवं प्रबंधन विभाग में संचालित ग्रामीण कृषि-मौसम सेवा परियोजना से मिली जानकारी के अनुसार शहर और आसपास के क्षेत्रों में छह जुलाई तक हल्के से मध्यम बादल छाने और वर्षा की संभावना है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com