Sunday , 29 May 2022

DEO और PERFUME का गलत इस्तेमाल आपकी जान भी ले सकता है

Loading...

 

img_20161122035723 आजकल हर कोई रोज़ाना डियो और परफ्यूम का इस्तेमाल करता है। हालांकि ज्यादातर लोग इसका इस्तेमाल पसीने की बदबू से छुटकारा पाने के लिए करते हैं जबकि कई लोग सिर्फ खुशबू के लिए इसका उपयोग करते हैं।

Loading...
टेलीविजन परभी रोज़ाना किसी न किसी डियो और परफ्यूम के विज्ञापन दिखाए जाते हैं। जिसे देखकर हम भी अपनी रोज़मर्रा की ज़िंदगी में डियो और परफ्यूम का इस्तेमाल करना नहीं भूलते हैं।
हर रोज त्वचा पर डियो या परफ्यूम का इस्तेमाल करना हमारी त्वचा की सेहत के लिए घातक भी हो सकता है। क्योंकि कई सारे शोध में खुलासा हुआ है कि शरीर से पसीना निकलना बहुत जरूरी है लेकिन डियो और परफ्यूम इसमें अवरोध पैदा कर सेहत से जुड़ी कई समस्याओं को जन्म देते हैं।
आइए जानते हैं कि डियो और परफ्यूम आपकी त्वचा को किस तरह से नुकसान पहुंचा सकते हैं।
डियो और परफ्यूम की साइड इफेक्ट्स:
1- पसीने की प्रक्रिया होती है बाधित
एक रिसर्च के मुताबिक पसीना कम करने के लिए इस्तेमाल में लाए जाने वाले खुशबूदार उत्पाद पसीने की सामान्य प्रक्रिया में बाधा पहुंचाते हैं जिससे शरीर में आर्सेनिक, कैडमियम, लीड और मरकरी जैसे तत्व इकट्ठा हो सकते हैं।
पसीने की बदबू दूर करने के लिए इस्तेमाल में लाया जाने वाला परफ्यूम व डियो न केवल पसीने के ग्लैंड को प्रभावित करते हैं बल्कि शरीर की टॉक्सिफ‌िकेशन की साधारण प्रक्रिया को भी नुकसान पहुंचाते हैं।
2- त्वचा के लिए नुकसानदेह
डियो और परफ्यूम में हानिकारक कैमिकल मौजूद होते हैं जो त्वचा को कई तरह से नुकसान भी पहुंचा सकते हैं। डियो या परफ्यूम में मौजूद हानिकारक कैमिकल्स त्वचा में जलन पैदा कर उसे बुरी तरह से क्षतिग्रस्त कर सकते हैं।
रोजाना डियो या परफ्यूम के इस्तेमाल से त्वचा में खुलजी और एलर्जी हो सकती है। इसके साथ ही इनमें मौजूद न्यूरो टॉक्सिन सेंट्रल नर्वस सिस्टम को प्रभावित करते हैं। कई बार डियो या परफ्यूम के उपयोग से त्वचा में घाव या अजीब तरह के निशान बन जाते हैं जिनमें बैक्टीरिया पनप सकते हैं।
3- हार्मोन्स हो सकते हैं असंतुलित
डियो और परफ्यूम में मौजूद कुछ केमिकल सेहत को बिगाड़कर, हार्मोन्स में असंतुलन पैदा कर सकते हैं। हार्मोनल इम्बेलेंस का प्रभाव न केवल आपकी सेहत पर बल्कि आपके सौंदर्य पर भी पड़ता है।
इसके अलावा महिलाओं में डियोडरेंट या परफ्यूम का प्रयोग मासिक धर्म संबंधी समस्याओं को जन्म दे सकता है।a
4- हो सकती हैं सांस संबंधी समस्याएं
 डियोडरेंट या परफ्यूम में मौजूद केमिकल आपको अल्जाइमर दे सकते हैं। इसके अलावा सांस संबंधी समस्याएं पैदा करने में यह केमिकल सहायक साबित होते हैं। अत्यधिक तेज गंध होने की वजह से ये नाक के तंतुओं को भी क्षतिग्रस्त कर सकते हैं जिससे आपको सांस संबंधी तकलीफें हो सकती है।
5- कामेच्छा पर पड़ता है दुष्प्रभाव
पसीना शरीर में तब निकलता है जब हम तनाव, डर ,घबराहट या सेक्स की इच्छा से प्रभावित होते हैं। कसरत के दौरान शरीर में सेक्स हार्मोन बढ़ते हैं इसलिए पसीना अधिक निकलता है। ऐसे में पसीने की दुर्गंध से छुटकारा पाने के लिए डियो या परफ्यूम का इस्तेमाल कामेच्छा को भी प्रभावित करता है।
ये है डियो और परफ्यूम की साइड इफेक्ट्स। अगर आप भी डियो और परफ्यूम लगाने के आदी है तो डियो और परफ्यूम की साइड इफेक्ट्स और इससे होनेवाली परेशानियों के बारे में एक बार सोच विचार कर लें।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com